Subscribe Us

cassette क्या होती हैं? cassette की खोज किसने की? cassette के बारे में जानिए विस्तार से|

Cassette क्या होती हैं?

Cassette की खोज किसने की? 

Cassette कितने प्रकार की होती है? 

Cassette का उपयोग कैसे होता था?

Cassette के बारे में जानिए विस्तार से|


कैसेट(Cassette) क्या होती हैं?

दोस्तों 60 और 70 के दशक से लेकर आज दुनिया काफी तेजी से विकास की ओर बढ़ रही है और यह विकास अभी भी जारी है| 60 के दशक से ही विश्व भर में Audio और Video Content का प्रचलन भी काफी तेजी से बढ़ने लगा था| अब विश्व भर के सामने यह समस्या थी कि आखिर इस Audio और Video Content को इस तरह से सहेज कर रखा जाए और उसी समय विश्व के सामने कैसेट(cassette) का निर्माण हुआ| 

यानी आप यह कह सकते हैं कि "शुरुआती समय में Audio और Video Content को रखने के लिए जिस वस्तु का उपयोग होता था उसे कैसेट्स(Cassettes) कहा जाता था|"  इसे "Compact Cassette" और "Old Tape" के नाम से भी जाना जाता है|

यह भी देखें|
Blogging से अब तक मैंने कितना कमाया देखिए प्रूफ के साथ?


कैसेट(Cassette) की खोज किसने और कब की ? 

कैसेट(cassette) को सबसे पहली बार फिलिप्स(Phillips) ने दुनिया के सामने रखा था फिलिप्स(Phillips) ने सितंबर 1963 में कैसेट(Cassette) का निर्माण करते हुए  हासेल्ट, बेल्जियम में दुनिया के सामने रखा था और उसी के बाद कैसेट(Cassette) का प्रचलन काफी तेजी से बढ़ता हुआ दिखाई दिया|

कैसेट(Cassette) कितने प्रकार के होती हैं?

कैसेट(Cassette) मुख्य रूप से दो प्रकार की होती हैं

1. ऑडियो कैसेट (Audio Cassette)


2. वीडियो कैसेट (Video Cassette)


1. ऑडियो कैसेट (Audio Cassette)

Audio कंटेंट को रखने के लिए ऑडियो कैसेट्स(Audio Cassette) का उपयोग किया जाता था ऑडियो कैसेट्स(Audio Cassette) में गाने रिकॉर्डिंग और जरूरी सूचनाएं रिकॉर्ड करके रखी जाती थी|  यह साइज में थोड़ा छोटे होते थे| 
ऑडियो कैसेट(Audio Cassette) के माध्यम से केवल ऑडियो की रिकॉर्डिंग और ऑडियो को प्ले किया जा सकता था| ऑडियो कैसेट्स(Audio Cassette) को प्ले करने के लिए आपको मैगनेटिक हेड(Magnetic Head) वाले म्यूजिक प्लेयर की जरूरत पड़ती थी|

2. वीडियो कैसेट(Video Cassette)

वीडियो कैसेट(Video Cassette), ऑडियो कैसेट(Audio Cassette) के मुकाबले थोड़े बड़े होते थे| वीडियो कैसेट में आपको ऑडियो कैसेट के मुकाबले ज्यादा चौड़ी रील देखने को मिलती थी और इसे चलने के लिए एक वीसीडी प्लेयर(VCD Player) की जरूरत पड़ती थी| जिसके माध्यम से आप ऑडियो के साथ वीडियो का भी मजा ले पाते थे| हालांकि ऑडियो कैसेट के मुकाबले वीडियो कैसेट महंगे होते थे और इनके रिकॉर्डिंग और प्ले करने में भी अधिक सामान की आवश्यकता होती थी|

यह भी देखें|



कैसेट(Cassettes) का उपयोग कैसे होता था?

कैसेट में ऑडियो और वीडियो को रिकॉर्ड करने के लिए एक पतली पन्नी नुमा लंबी लंबी पट्टी होती थी जिसे लोग आम बोलचाल की भाषा में "रील" कहते थे| लेकिन इस रील को यदि टेक्नोलॉजी की भाषा में देखा जाए तो इसे "मैग्नेटिक टेप(Magnetic Tape)" कहा जाता था| और इस Magnetic Tape के माध्यम से ही ऑडियो या वीडियो को रिकॉर्ड और प्ले किया जाता था| 

ऑडियो या वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए और प्ले करने के लिए एक मैग्नेटिक हेड(Magnetic Head) जरूरत पड़ती थी उस मैग्नेटिक हेड के ऊपर से जब यह मैग्नेटिक टेप गुजरता था तो एनालॉग डाटा को रीड करते हुए उस हेड के माध्यम से एनालॉग सिगनल से ऑडियो कंटेंट या फिर वीडियो कंटेंट जनरेट होता था और इस तरह से कैसेट्स का उपयोग किया जाता था|

कैसेट(Cassette) की बनावट कैसी होती थी ?

ऑडियो कैसेट और वीडियो कैसेट दोनों की बनावट लगभग एक सी होती थी लेकिन साइज में अंतर था| 

ऑडियो कैसेट(Audio Cassette) की बनावट

ऑडियो कैसेट(Audio Cassette) की लम्बाई और चौड़ाई लगभग 3 इंच बाय 4 इंच वहीं पर ऊंचाई या मोटाई की बात करें तो लगभग 4mm होती थी| बीच में दो चकरी नुमा गिर्रियाँ होती थी जिसमें रील लपेटी होती थी| 

जब कैसेट(Cassette) को Audio Player में लगाया जाता था तब यह रील एक गिर्री से खाली होते हुए दूसरी गिर्री में भर जाती थी| प्लेयर में गाने को आगे बढ़ाने के लिए और गाने को पीछे करने के लिए इसी गिर्री को आगे या पीछे घुमाना पड़ता था जिसकी वजह से रील आगे या पीछे होती थी और इस तरह से गाना फॉरवर्ड और बैकवर्ड होता था| 
इसके लिए ऑडियो प्लेयर(Audio Player) में बकायदा एक फॉरवर्ड बटन और एक बैकवर्ड बटन होती थी|  हालांकि यदि आप चाहें तो कैसेट(Cassette) में गिर्री को पेंसिल या फिर उंगली की सहायता से भी रील को आगे या पीछे घुमा सकते थे| 

वीडियो कैसेट(Video Cassette) की बनावट

वीडियो कैसेट(Video Cassette), ऑडियो कैसेट(Audio Cassettes) के मुकाबले बड़ी होती थी यह लगभग साइज में 6 इंच बाय 8 इंच की होती थी वही इनकी मोटाई 1 इंच होती थी एक वीडियो कैसेट के माध्यम से लगभग एक घंटे से डेढ़ घंटे तक हम वीडियो देख पाते थे| इस तरह एक पूरी फिल्म देखने के लिए हमें दो वीडियो कैसेट की जरूरत पड़ती थी| 
वीडियो कैसेट्स को चलाने के लिए वीसीडी प्लेयर की जरूरत पड़ती थी वहीं पर वीसीडी प्लेयर के साथ एक टीवी की भी आवश्यकता होती थी जहां पर वीडियो देखा जा सके|

दोस्तों मौजूदा समय में हम ऑडियो वीडियो या फिर डाटा को स्टोर करने के लिए बहुत ही पतली और छोटी सी चिप का उपयोग करते हैं जिसे माइक्रो एसडी कार्ड कहा जाता है|

यह भी देखें|
JioMeet डेक्सटॉप पर कुछ इस तरह से चलेगा, देखें विस्तार से?
Google Maps में है आपके गुम हुए Smartphone को खोजने का features
Google Top 5 Tricks|| Google के 5 अनोखे Tricks

इस लेख के माध्यम से मैंने आपको पूर्ण रूप से पहले के समय में ऑडियो वीडियो कंटेंट को स्टोर करने के लिए कैसेट्स का उपयोग किया जाता था उसके बारे में बताने की कोशिश की है| आपको मेरे द्वारा लिखा गया यह लेख कैसा लगा नीचे कमेंट कर जरूर बताएं|

Post a Comment

0 Comments